You are here
Home > Crime > आखिर अलीगढ़ के रॉकी को नोएडा में क्यों मारी गोली ?

आखिर अलीगढ़ के रॉकी को नोएडा में क्यों मारी गोली ?

GUN-Point

source -jagran.com

अलीगढ़ : नोएडा स्थित कैलाश हॉस्पीटल के हॉस्टल में अलीगढ़ के एक युवक की बुधवार रात गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या के कारणों का अभी तक पता नहीं चल सका है। युवक के पिता शहर के नामचीन अधिवक्ता हैं। नोएडा में पोस्टमार्टम के बाद युवक के शव की दोपहर बाद अलीगढ़ पहुंचने की संभावना है।

थाना सासनी गेट के मोहल्ला न्यू गोपालपुरी के रहने वाले अभिनव कुमार उर्फ रॉकी एमबीए करने के बाद नोएडा स्थित कैलाश हॉस्पीटल में सहायक मैनेजर था। वे दो साल से कैलाश हॉस्पीटल के हॉस्टल में रह रहे थे। दो साल पहले ही शादी हुई थी।

रॉकी के पिता श्यौवीर सिंह यहां शहर के नामचीन अधिवक्ता हैं। अभिनव ने कभी गलत चीजों से समझौता नहीं किया। ईमानदार और अच्छी छवि होने की वजह से कैलाश हॉस्पीटल के आला अफसर खुश थे, लेकिन कुछ कर्मचारियों को यह रास नहीं आ रहा था। बुधवार की रात करीब साढ़े आठ बजे नोएडा स्थित कैलाश हॉस्पीटल के हॉस्टल में किसी ने अभिनव के सिर में गोली मार दी, जिससे उसकी मौत हो गई।

घटना की जानकारी कैलाश हॉस्पीटल के अधिकारियों ने अलीगढ़ में परिजनों को दी। सूचना मिलते ही अधिवक्ता पिता श्यौवीर सिंह व मां ऊषा सिंह की पैरों तले जमीन खिसक गई। घर में कोहराम मच गया। आनन-फानन परिजन नोएडा के लिए रवाना हो गए। अभिनव के बड़े भाई कृष्णकांत सिंह उर्फ दीपू गुड़गांव में इंजीनियर हैं। सूचना मिलने पर वे भी नोएडा के लिए रात में पहुंच गए।

गुरुवार की सुबह जानकारी मिलने पर रिश्तेदार, परिचित व अनेक अधिवक्ता घर पर पहुंच गए। रॉकी को गोली किसने और क्यों मारी इसकी जानकारी अभी किसी को नहीं है। उम्मीद जताई जा रही है कि नोएडा में पोस्टमार्टम के बाद अभिनव का शव शाम तक अलीगढ़ पहुंचने की संभावना है। पुलिस छानबीन में जुट गई है। हॉस्पीटल के कर्मचारियों से भी पूछताछ कर रही है।

source -jagran.com

Leave a Reply

Top