You are here
Home > Crime > गुड़गांव फायरिंग में नया दावा- गनर की बीमार बेटी के लिए भी जज ने नहीं दी थी छुट्टी

गुड़गांव फायरिंग में नया दावा- गनर की बीमार बेटी के लिए भी जज ने नहीं दी थी छुट्टी

source – aajtak.intoday.in

गुरुग्राम में जज की पत्नी और बेटे पर फायरिंग मामले में आरोपी गनर महिपाल सिंह यादव के चाचा दान सिंह ने दावा किया है कि यादव ने उस उस दिन जज से छुट्टी मांगी थी. चाचा ने कहा- ‘मेरे भतीजे की 7 साल की बेटी बीमार थी. फोन पर जानकारी मिलने के बाद उसने छुट्टी के लिए जज कृष्ण कांत से अनुरोध किया. लेकिन उसके अनुरोध को खारिज कर दिया गया और जज की पत्नी व बेटे को शॉपिंग के लिए एस्कॉर्ट करने को कहा गया.’

चाचा ने कहा कि महिपाल की बेटी का प्रेस्क्रिप्शन उनके पास मौजूद है और उन्होंने घर आने पर पुलिस को भी दिखाया था. लेकिन पुलिस ने उनकी नहीं सुनी और परिवार को दूसरे स्थान पर ले गए. महिला की मां भी बीमार है. हालांकि, उन्होंने कहा कि अपराध को जस्टिफाई नहीं किया जा सकता.

जज की पत्नी रितु (45) की मौत हो चुकी है, जबकि बेटा ध्रुव (18) को डॉक्टरों ने ‘ब्रेन डेड’ घोषित कर दिया है. महिपाल जब 3 साल का था उसके पिता की मौत हो गई थी, इसके बाद चाचा दान सिंह ने ही उन्हें पाला.

उधर, पुलिस की जांच में एक चौंकाने वाली जानकारी मिली. आरोपी गनर ने हत्या को अंजाम देने से पहले फेसबुक पर रहस्यमय पोस्ट किया था. गनर महिपाल ने शुक्रवार रात में कागज पर डॉट बनाकर कुछ लिखा. एक जगह पर चार डॉट है, इसमें ऐसा लग रहा कि किसी का नाम लिखा है, लेकिन उसे फिर पेन से काट दिया है. पुलिस इसे डिकोड करने की कोशिश कर रही है.

पुलिस गनर के लिखे से यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि क्या फायरिंग करने से पहले प्लानिंग की गई थी.  महिपाल को हरियाणा पुलिस की नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक महिपाल कुछ वक्त से एक धर्म प्रचारक के संपर्क में था. इस शख्स से प्रभावित होकर उसने ईसाई धर्म अपनाने का फैसला किया था.

source – aajtak.intoday.in

Leave a Reply

Top