You are here
Home > Politics > मनोज तिवारी को अपने ही ‘घर’ में झेलना पड़ा सवर्णों का विरोध, दिखाए गए काले झंडे

मनोज तिवारी को अपने ही ‘घर’ में झेलना पड़ा सवर्णों का विरोध, दिखाए गए काले झंडे

source – aajtak.intoday.in

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी को सवर्ण समुदाय के भारी विरोध का सामना अपने गृह जिले में ही करना पड़ा. मनोज तिवारी को अपने घर भभुआ में ही लोगों की नाराजगी से रूबरू होना पड़ा जब लोगों उन्हें चूड़ियां और काले झंडे दिखाए. मनोज तिवारी की मौजूदगी में मंच से नारा लगता रहा- मनोज तिवारी जिंदाबाद, भीड़ से जवाब मिलता रहा- मुर्दाबाद, मुर्दाबाद!

दरअसल मनोज तिवारी कैमूर जिले के मोहनिया प्रखंड के अतरवलिया के रहने वाले हैं. भभुआ के नगरपालिका मैदान में रविवार को भारतीय जनता युवा मोर्चा का शंखनाद सम्मेलन आयोजित किया गया था. इस सम्मेलन में भाग लेने के लिए दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी भी आए हुए थे. मनोज तिवारी कार्यक्रम के उद्घाटन के लिए जैसे ही मंच पर आए दर्शक दीर्घा से उनका विरोध शुरू हो गया. हंगामे के कारण कार्यक्रम को कुछ देर के लिए रोक दिया गया.

बता दें संसद में एससी/एसटी एक्ट संशोधन कानून पर बीजेपी से रुख से सवर्ण समुदाय के लोग नाराज है. लिहाजा बीजेपी के युवा प्रकोष्ट के इस कार्यक्रम में बीजेपी सांसद मनोज तिवारी को विरोध का सामना करना पड़ा. इस कार्यक्रम के संचालक बार बार शांति बनाए रखने की अपील करते रहे लेकिन उसका कोई असर नहीं हुआ. भभुआ के बाद सासाराम में भी मनोज तिवारी के कार्यक्रम में हंगामा हुआ.

कार्यक्रम में हंगामा बढ़ता देख मंच से शांति बनाये रखने अपील भी की गई लेकिन उसका भी असर नहीं हुआ. मंच से जब मनोज तिवारी जिंदाबाद का नारा लगा तो भीड़ से जवाब आया- मुर्दाबाद ! मुर्दाबाद! इसके बाद दर्शक दीर्घा में मौजूद नौजवान काला कपड़ा दिखा कर विरोध जताने लगे. बाद में हंगामा कर रहे लोगों को शांत करने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा.

लाठीचार्ज के कारण थोड़ी देर के लिए अफरातफरी का माहौल बन गया. लोग चप्पल-जूता छोड़ गिरते-पड़ते भागे. सांसद मनोज तिवारी के सामने हंगामा होता रहा और वे देखते रहे. उस समय सांसद छेदी पासवान, मंत्री वृजकिशोर बिंद, विधायक रिंकी रानी पांडेय, एमएलसी संतोष सिंह और विधायक निरंजन राम भी उनके साथ मौजूद थे.

source – aajtak.intoday.in

Leave a Reply

Top