You are here
Home > News > चुनावी मोड में केजरीवाल, कहा- दिल्ली में सातों सांसद AAP के होते तो नहीं होती सीलिंग

चुनावी मोड में केजरीवाल, कहा- दिल्ली में सातों सांसद AAP के होते तो नहीं होती सीलिंग

source – aajtak.intoday.in

आम आदमी पार्टी ने 2019 लोकसभा चुनाव के लिए बिगुल फूंक दिया है. खुद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सातों सीटों पर अपने उम्मीदवारों के लिए वोट मांगते नज़र आए. सोमवार को पूर्वी दिल्ली में पार्टी के लिए लोकसभा चुनाव को लेकर दफ्तर का उद्घाटन करने पहुंचे केजरीवाल ने एक पर्चा जारी करते हुए कई वादे भी किए.

अरविंद केजरीवाल ने दावा किया कि दिल्ली में सातों सांसद आम आदमी पार्टी के होते तो सीलिंग नहीं होती. केजरीवाल ने इस दौरान बीजेपी और कांग्रेस को जमकर कोसा. वहीं, मनीष सिसोदिया ने तो आतिशी मार्लेना को ही पूर्वी दिल्ली का सांसद ही घोषित कर दिया.

दरअसल आम आदमी पार्टी के तमाम बड़े नेता और कैबिनेट मंत्री, पूर्वी दिल्ली की लोकसभा प्रभारी आतिशी मार्लेना के दफ्तर का उद्घाटन करने लक्ष्मी नगर मेट्रो स्टेशन के नज़दीक पहुंचे थे. इस कार्यक्रम में खुद केजरीवाल, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, दिल्ली सरकार के 5 कैबिनेट मंत्री, विधायकों और कार्यकर्ताओं की भीड़ मौजूद थी.

केजरीवाल इस दौरान पूरी तरह चुनावी मोड में नजर आए. उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद लोगों से पूछा, “आज से 4 साल पहले 2014 में लोकसभा के चुनाव हुए थे. दिल्ली ने सभी 7 सीटों पर भाजपा को जिताया था. फिर 2015 में दिल्ली विधानसभा के चुनाव हुए तो 70 में से 67 सीट देकर हमारी सरकार बनाई. जनता बताये कि काम किसने किया, बीजेपी सांसदों या आम आदमी पार्टी सरकार ने.”

केजरीवाल ने कहा, ‘पिछले 4 साल में एक छोटा सा काम भी बीजेपी सांसदों ने दिल्ली में नहीं कराया जबकि आम आदमी पार्टी सरकार ने बिजली सस्ती की, पानी फ्री किया, स्कूल फ्री किए, सरकारी स्कूल में दवाई मुफ्त की.’ उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी सांसदों ने उपराज्यपाल के साथ मिलकर दिल्ली सरकार का काम रोका.”

केजरीवाल ने कहा, “मेरा दिल जनता है कि कैसे हमने सरकार चलाई. हर काम में उपराज्यपाल फाइल लेकर बैठ जाता था. मगर उपराज्यपाल दफ्तर में धरना करके सीसीटीवी फाइल पास करवाई है, अब, पूरी दिल्ली में सीसीटीवी लगवाकर छोड़ेंगे. बीजेपी वाले दिल्ली वालों के साथ धोखाधड़ी कर रहे हैं. 2019 के चुनाव में बीजेपी वालों के बहकावे में मत आना. कांग्रेस को वोट देने का कोई फायदा नहीं.  उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सारे उम्मीदवार पिछले लोकसभा और विधानसभा चुनाव में जमानत जब्त करा चुके हैं. कांग्रेस वोट काटने वाली पार्टी है.

आम आदमी पार्टी से दिल्ली के संयोजक गोपाल राय ने भी बीजेपी पर हमले किए. उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले दिल्ली में सांसदों के कामकाज पर सर्वे कराने की ख़बर सामने आ रही है. भाजपा में घबराहट में है. क्या मनोज तिवारी चुनाव लड़ेंगे या उम्मीदवार बदलेंगे? सुनने में आया है कि 7 सीट पर बीजेपी नए उम्मीदवार ढूंढ रही है. बीजेपी के पास जवाब नहीं है कि पिछले 5 साल में प्रधानमंत्री ने विदेश यात्राओं के अलावा क्या किया?

मनीष सिसोदिया ने कहा कि ये 2019 के पूर्वी दिल्ली के सांसद का दफ्तर है. यहां आतिशी बैठा करेंगी. सिसोदिया ने भी चुनावी प्रचार के अंदाज़ में बीजेपी को निशाना बनाया और कहा “बीजेपी के पास जवाब नहीं है कि सरकारी स्कूल कहां हैं? जहां बीजेपी की सरकार है वहां बिजली महंगी क्यों हुई? जनता पूछती है अच्छे दिन? 15 लाख? दिल्ली को पूर्ण राज्य? लेकिन बीजेपी चुप है.

पूर्वी दिल्ली की लोकसभा प्रभारी आतिशी मार्लेना ने बीजेपी और कांग्रेस पर सवाल खड़े किए. उन्होंने पूछा कि “क्या 15 सालों में कांग्रेस और बीजेपी इस 4 सालों में पूर्वी दिल्ली का विकास किया?” आतिशी ने आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी के उपराज्यपाल और सांसद पिछले 4 साल से केजरीवाल सरकार के काम में अड़ंगा डाल रहे हैं. इसलिए दिल्ली ने तय कर लिया है कि 7 सांसद आम आदमी पार्टी के आये तो अरविन्द केजरीवाल के हाथ मजबूत होंगे.”

source – aajtak.intoday.in

Leave a Reply

Top